… अब सभी प्लेटफार्म पर चिन्हित होगा बोगी का नंबर

नई दिल्ली।
रेलवे यात्रियों को ट्रेन आने बोगी खोजने के लिए इधर-उधर भागने की जरूरत नहीं होगी। यात्री पहले से ही निर्धारित जगह पर अपनी बोगी का इंतजार करते नजर आएंगे। यह सुविधा केवल बड़े स्टेशनों पर ही नहीं बल्कि छोटे-छोटे स्टेशनों पर भी उपलब्ध होगा। रेल मंत्रालय ने संबंधित जोनों इस बाबत दिशा निर्देश जारी कर दिया है।
सूत्रों के मुताबिक रेल मंत्रालय सभी जोन को यह निर्देश दिया है कि प्लेटफार्म पर बोगी नंबर अंकित कराई जाए। जिससे ट्रेन के आने के बाद यात्रियों को अपनी बोगी पहुंचने में दिक्कत का सामना न करना पड़ा। दरअसल रेल मंत्रालय के पास बोगियों के निर्धारण का पता नहीं होने के बारे में लंबी तादाद में शिकायतें आती रहती थी। रेल मंत्रालय इसका सुगम रास्ता ढूंढ़ने में लगा हुआ था। सभी प्लेटफार्म में बोगी की जानकारी के लिए डिजिटल बाक्स लगाने में करोड़ों का खर्च को देख रेल मंत्रालय इसकी हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था। रेलवे पहले से ही आर्थिक नुकसान की हालत में चल रहा है। रेलवे की दूसरी समस्या यह थी कि डिजिटल बाॅक्स लगाने के बाद उसको ढ़कने के लिए प्लेटफार्म पर शेड बनाना अनिवार्य हो जाता। इससे रेलवे का खर्च और भी बढ़ना तय था। ऐसे में इस समस्या से निजात पाना रेलवे के लिए काफी मुश्किल हो गया। इन मुश्किल हालात से निकलने के लिए रेलवे ने एक सुगम रास्ता खोज निकाला है। रेलवे ने प्लेटफार्म पर ही पेंट के माध्यम से बोगी नंबर लिखवाने की योजना बनाई है। इससे रेलवे को न तो प्लेटफार्म पर शेड लगाने की जरूरत होगी और न ही डिजिटल बाक्स के रख रखाव के लिए अलग से खर्च करने पड़ेंगे। पेंट से लिखवाने में रेलवे का खर्च भी न्यूनतम आएगा। जिससे कोई भी जोन आसानी से करवा सकता है। रेलवे ने इस बाबत निर्देश भी जारी कर दिया है। सनद रहे कि देश में 8000 रेलवे स्टेशन है। इसमें से कई रेलवे स्टेशन तो ऐसे हैं जहां गाडि़यां बमुश्किल से दो मिनट के लिए रूकती है। ऐसे मेें यात्रियों को अपनी निर्धारित बोगी में पहुंच पाना किसी जंग लड़ने के समान हो जाता था। इसमें समस्या तब और बढ़ जाती थी जब यात्री बुजुर्ग हुआ करते हैं। रेलवे ने यात्रियों की इसी असुविधा को देखते हुए नया कदम उठाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here