मकोका कोर्ट ने लश्कर आतंकी अबु जुंदाल समेत 12 को दोषी ठहराया

मुंबई , मुंबई की एक मकोका कोर्ट ने हथियारों का जखीरा मिलने के मामले में आतंकी अबु जुंदाल समेत 12 लोगों को दोषी ठहराया है, जबकि 10 लोगों को बरी कर दिया। अबु जुंदाल आतंकवादी संगठन लश्कर ए तैयबा का सदस्य है और वह मुंबई पर 26/11 को हुए आतंकी हमले का अहम साजिशकर्ता है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के औरंगाबाद में 8 मई, 2006 में एक वाहन में हथियारों का जखीरा मिला था। उसमें 30 किलो आरडीएक्स, 10 एके 47 रायफलें और 3200 कारतूस बरामद हुए थे।मकोका कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि 2002 गुजरात दंगों के बाद वहां के तत्कालीन सीएम नरेंद्र मोदी और वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया को मारने के लिए यह साजिश रची गई थी। कोर्ट ने माना कि ये आतंकियों की बड़ी साजिश थी। इस कार्रवाई में 30 किलो आरडीएक्स, 10 एके-47 राइफल्स और 32,00 गोलियां बरामद हुई थी। एटीएस टीम को ये कामयाबी औरंगाबाद के चांदवाड-मांमाड हाइवे पर दो कारों का पीछा करने के दौरान मिली। वाहन चलाने वाला शख्स जबी बताया गया था। सरकारी वकील ने कहा कि जबी और कोई नहीं, बल्कि अबु जुंदाल ही है। वह पुलिस की आंखों में धूल झोंकी बांग्लादेश फरार हो गया और वहां से पाकिस्तान भाग गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here